Skip to main content

Posts

Showing posts from November 7, 2020

सुलतानपुर : देवरानी-जेठानी के झगड़े को सुलझाने देवर भाभी ने कलछुल से किया हमला

      सुलतानपुर : देवरानी-जेठानी के झगड़े को सुलझाने  आए देवर पर भाभी ने किया कलछुल से हमला, मौत सुलतानपुर कोतवाली देहात के बरुआ गांव में धान ओसाने को लेकर मंगलवार की दोपहर परिवार में विवाद शुरू हो गया। पत्नी व भाभी के झगड़े को छुड़ाने पहुंचे देवर के सिर पर भाभी ने लोहे की कलछुल से हमला बोल दिया, जिससे देवर की मौत हो गयी। गोमती नदी किनारे बरुआ जगदीशपुर गांव में जयकरन के दो बेटे कमलेश व रमेश यादव के बीच धान ओसाने को लेकर गांव से बाहर पाही पर सुबह आठ बजे के करीब विवाद होने लगा। घर पहुंचने पर इसी बात को लेकर देवरानी-जेठानी फिर झगड़ा करने लगी। हल्ला गुहार सुनकर पहुंचा कमलेश मारपीट कर रही दोनों महिलाओं को छुड़ाने लगा। तभी कमलेश की भाभी रंजना ने लोहे की कलछुल से उसके सिर पर कई प्रहार कर दिए। हमले से कमलेश लहूलुहान होकर गिर पड़ा। नाजुक हालत में पत्नी व आसपास के लोग उसे लेकर जिला चिकित्सालय जा रहे थे, कि रास्ते में ही उसकी मौत हो गई। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया।      कोतवाली देहात कोतवाल देवेंद्र सिंह ने बताया कि मृतक के पिता जयकरन की तहरीर पर भाभी रंजना के खिलाफ मुकदमा

बैंक अधिकारी बनकर ओटीपी प्राप्त कर लाखों की ठगी करने वाले आरोपी को भोपाल पुलिस की सायबर टीम ने किया गिरफ्तार

  भोपाल   बैंक अधिकारी बनकर ओटीपी प्राप्त कर लाखों की ठगी करने वाले आरोपी को भोपाल पुलिस की सायबर टीम ने किया गिरफ्तार   बैंक कर्मचारी बनकर करते हैं फोन।     विश्वास में लेकर प्राप्त करते हैं बैंक डिटेल्स एवं ओटीपी।   बैंक खातों का करते थे इस्तेमाल।       विवरण:-दिनांक 29.08.2020 को आवेदक देव सिंह कोटेन्द्र निवासी भोपाल द्वारा आवेदन पत्र प्रस्तुत कर बताया कि उसके मोबाईल पर फर्जी मो0 नं0 9817429757 से फोन आया जो कि बैंक अधिकारी बनकर आवेदक से बात कर उसके बैंक की डिटेल एवं ओटीपी प्राप्त कर आवेदक के एकांउट से 21000/- रू0 की धोखाधड़ी कर निकाले गये। आवेदन पत्र की जांच के दौरान थाना क्राईम ब्रांच भोपाल में अज्ञात आरोपी के विरुद्ध अपराध क्रमांक 183/20 धारा 419, 420 भादवि, का पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया।    विवेचना के दौरान प्रकरण में फर्जी तरीके से प्राप्त किया गया रूपया रोजरपे का एकाउंट, इक्विटस स्माल फायनेंस बैंक के फर्जी एकाउंट से होकर आरोपी गुलशन कुमार यादव के एकाउंट से विड्राल होना पाया गया। अतः आरेपी को उसके गांव जरूआडीह थाना सोनाराय ठाढ़ी जिला देवघर (झारखण्ड) से भोपाल

बस इतनी सी बात पे मशहूर हो गई हूं में  के तुझसे दूर बहोत दूर हो गई हूं में 

                                                 ग़ज़ल बस इतनी सी बात पे मशहूर हो गई हूं में  के तुझसे दूर बहोत दूर हो गई हूं में    वोह आने वाला है शमा वफा जलाने को  बस इस ख़याल से पूरनूर हो गई हूं में    अब आके लोग मेरे दर पे दस्तके देंगे  जहाने इश्क़ का दस्तुर हो गई हूं में    मेरे वजूद में यादे हैं इन्की खुशबू है जो कह रहे है के अब दूर हो गई हूं में    मुझे यक़ीन है ,शाइस्ता, इस के आने का ये क्या है सबब है के रन्जूर हो गई हूं मे                                 शाइस्ता जमाल